नोवेल कोरोनोवायरस संक्रमण को सावधानी के साथ रोका जा सकता है, Mp Online information आपसे अनुरोध करता है, "घर पर रहें - अपनी रक्षा करें - #StayHome.

QR Code Kya Hai Hindi?

QR Code Full Form:- Quick Response



अब तक आपने इस QR Codes को सभी जगह पर देखा होगा, और कई बार आपके मन में इसके बारें में अधिक जानने कि इच्‍छा भी जागी होगी। तो क्‍या आप क्यूआर कोड के बारें में अधिक जानने के लिए उत्साहित है?


QR Code Kya Hai Hindi
QR Code Kya Hai Hindi
“QR” का मतलब है “Quick Response”, क्‍योकि इन्‍हे क्विकली रिड करने के लिए डिजाइन किया गया है। QR Code को डेडिकेटेड क्यूआर कोड रिडर या फिर सेल फोन के द्वारा पढ़ा जा सकता है। सेल फोन से क्यूआर कोड रिड करने के लिए आपको QR Code Reader ऐप इंस्‍टॉल करना होगा। इसके लिए फोन के अलग अलग ओएस के प्लेटफार्मों के लिए विभिन्न एप्लिकेशन स्टोर में कई मुफ्त क्यूआर कोड रिडर आपको मिल जाएंगे।


QR Codes:- दो डायमेंशनल बारकोड होते है, जिन्‍हे QR Codes रिडर या Sartphone से रिड किया जाता है। क्यूआर कोड ब्‍लैक और वाइट पैटर्न के छोटे स्क्वेर होते है। इन्‍हे आप कई जगह पर देख सकते है, जैसे कि प्रॉडक्‍ट, मैगज़ीन और न्‍युजपेपर। QR Codes को विशिष्‍ट प्रकार कि जानकारी को सांकेतिक शब्दों में बदने के लिए प्रयोग किया जाता है।

QR Codes:- Text, Emale, Website, Phone No और अन्‍य से Link किया जाता है। जब आप किसी प्रॉडक्‍ट पर छपे इस क्यूआर कोड को स्कैन करते है, तब आप सीधे इन Site पर जा सकते है, जहाँ पर उस प्रॉडक्‍ट के बारें में अधिक जानकारी होती है।

Limitations of Barcodes –

a) यूनिडायरेक्शनल: BARCode केवल 1 डायमेंशनल (1D) है और डेटा को एक दिशा में स्‍टोर करते है। अगर स्‍कैनर इसके सही दिशा में न हो, तो यह BARCode स्‍कैन नहीं होगा।

b) स्‍टोरेज कैपेसिटी: बारकोड में सिर्फ 20 कैरेक्‍टर ही स्‍टोर हो सकते है।

c) साइज: BARCode में जितने अधिक अक्षर होंगे, उतना बारकोड लंबा होगा। एक छोटे से प्रॉडक्‍ट पर एक लंबे बारकोड को प्रिंट करना एक चुनौती है
d) कमजोर: BARCode  जब गंदगी या क्षति से प्रभावित हो जाता है, तब वह काम नहीं करता।

e) एन्कोडिंग: BARCode केवल अल्फान्यूमेरिक कैरेक्‍टर को एनकोड कर सकते हैं।

BARCode क्या है ये कैसे काम करता है:-

BARCode ब्लैक वाइट की खड़ी लाइनों से मिलकर बना होता है l  लेकिन इसमें  बहुत कम  इनफार्मेशन स्टोर होती है l अगर ये एक बार स्टोर हो जाये तो आप बड़े ही आराम से इसे read कर सकते है l इसमें Menually Number या कुछ टाइप करने की बजे सिंपल Barcode scanner की मदद मे इसे पड़ने में सहायता मिलती है l अगर बात करे कि बार code काम कैसे करता है तो इसमें 1 से लेकर 9 number , कोई सा भी हो सकता है l

हर नंबर में 7 लाइन को चुना गया है अगर सात लाइन खड़ी है तो इसमें कुछ वाइट तो कुछ ब्लैक होती है l  तो हर लाइन के लिए अलग अलग number होते है l जब हम इसको Leger scanner से स्कैन करते है तो वाइट लाइन लेजर को बापस कर देती है और ब्लैक लाइन लेजर को observe कर लेती है तो जहाँ से लेजर बापस आती है वहां वन और जहाँ से लेजर बापस नहीं आती वहां जीरो तो ऐसे में हम उसे सात सात में Divide करके पता लगा लेते है कि इसमें पहला दूसरा तीसरा कौन सा है  तो और इसकी मदद से हम Barcodes के number आसानी से पढ़ लेते है l
Barcodes,QR Code Kya Hai Hindi
Barcodes
पहले इस BARcode में छुपी हुई इनफार्मेशन को जानने के लिए बहुत बड़ी Power Leger का उपयोग करते थे लेकिन आज के समय में हमारे पास Handle Reader है जिनसे बहुत ही आसानी से read कर सकते है l इसके आलावा आप अपने मोबाइल से किसी भी Barcode को read कर सकते है l लेकिन Barcode में कुछ कमियाँ भी है जैसे अगर Barcode कट फट जाये तो इसे read करने में परेशानी हो सकती है l और Barcode में हम कम इनफार्मेशन ही स्टोर कर सकते है l

QR Code बहुत important है:-

आपको थोडा बहुत idea तो हो गया होगा के QR Code क्या है अगर आपने पहले कभी QR Code के बारे में नहीं सुना तब शायद आप ज्यादा परेसान हो रहे है. जो लोग Internet मे पहले से जुड चुके हैं उन्हें शायद इनके बारे में पहले पता हो Sqare Shaped Barcode क्या है. ये दिखने में भले ही थोडा odd लग रहा हो लेकिन ये इसके बारे में छोटे Business Owner और enterprenure को जरुर पता होना चाहिए. इसे हम क्यूआर कोड का extention भी कह सकते हैं जिसे mid 1970 से इस्तमाल में लाया जा रहा है. पहले इसे Supermarket के grocerries में इस्तमाल किया जाता था चीज़ों तो track करने के लिए. लेकिन हम इसका इस्तमाल सभी बड़े और छोटे company अपने sales और productivity को बढ़ाने के लिए करते हैं.

हमारे जैसे consumer की बात करें तो QR Codes की मदद से हम बड़ी आसानी से अपने SmartPhones को इस्तमाल कर कुछ action जल्दी से कर सकते हैं. NFC (Near Field Communication) की तरह इसमें कोई Fancy electronic नहीं लगी है या इसमें कोई special technology का इस्तमाल भी नहीं हो रहा है. ये तो बस एक grid हैं white और black का जिसे किसी paper में print किया गया होता है और इसे बड़ी आसानी से phone की कैमरा में कैद किया जा सकता है.

QR Code को scanner app की मदद से पहले capture किया जाता है, फिर वो app उस कोड को किसी valuable information में बदल देता है. जिसे की हम समझ सकते हैं. उदाहर के तोर पे अगर किस advertising board में आपने कोई क्यूआर कोड देखा और उसे आपने स्कैन कर लिए तब वो आपको किसी website में ले गया, इसका मतलब है की उस QR Code में किस website का URL embeded था. इसी तरह ही काम करता है QR Code.


QR Code Types:-

आज QR Codes कई सारे टाइप में उपलब्‍ध है। वैसे तो क्यूआर कोड के प्रकार उसकी साइज और उसे स्‍कैन करने पर क्‍या ओपन होगा इन दोनों के आधार पर किए जाते है।

किसी QR Codes को स्‍कैन करने के बाद क्‍या ओपन होगा इसके आधार पर निम्‍न प्रकार है –

1) URL: इस क्यूआर कोड को स्‍कैन करने के बाद, आप सीधे इसमें सेव वेबसाइट के एड्रेस पर जाते है।

2) Business card: इन बिजनेस क्यूआर कोड को स्‍कैन करने के बाद, इसमे सेव डिटेल्‍स जैसे नाम, एड्रेस, फोन नंबर, ई-मेल आदि स्‍मार्टफोन में सेव हो जाते है।

3) SMS:- इसमें कंटेंट और एसएमएस के प्राप्तकर्ता का फोन नंबर सेव होता है। स्कैनिंग के बाद, एसएमएस जिसे भेजना है उसका नंबर और कंटेंट ऑटोमेटिक आ जाते है, आपको केवल इस बात की पुष्टि कर उसे भेजना होता है।



4) Geo Location:- इस क्यूआर कोड में किसी लोकेशन का अक्षांश और रेखांश सेव होता है। इसे स्‍कैन करने पर आप अपने स्‍मार्टफोन के मैप ऐप में सीधे इस लोकेशन को देख सकते है।

5) Download Mobile Application:- इस क्यूआर कोड को स्‍कैन करने के बाद आप सीधे ऐप डाउनलोड के एड्रेस पर जाते है।

6) Get A Coupon:- इस कूपन क्यूआर कोड को स्कैन करने पर, मोबाइल में कूपन लैंडिंग पेज पर आपको रीडायरेक्ट किया जाएगा।

7) Social Network:- सोशल नेटवर्किंग के लिए भी क्यूआर कोड को इस्‍तेमाल किया जाता है। जैसे फेसबुक पेज के क्यूआर कोड को स्‍कैन करने के बाद आप सीधे फेसबुक पेज पर जाते है।

💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚
  • 💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚

No comments:

Post a comment